Kids Moral Panchtantra Short Stories

Short Moral Panchtantra Story In Hindi – घमंडी लोमड़ी

short-moral-panchtantra-hindi-story
Written by Abhishri vithalani

Short Moral Panchtantra Story In Hindi – घमंडी लोमड़ी

हमें कभी भी किसी बात पर घमंड नहीं करना चाहिए । क्योकि घमंडी लोगो को बाद में अपने किये कर पछतावा जरूर होता है । ये कहानी ( Short Moral Panchtantra Story In Hindi – घमंडी लोमड़ी ) भी ऐसे ही एक घमंडी लोमड़ी के बारे में है ।

एक जंगल में एक शक्तिशाली शेर रहता था । वो शेर हररोज शिकार करने के लिए नदी के किनारे जाता था । एक दिन हररोज की तरह जैसे शेर नदी के किनारे से वापिस लौट रहा था तब उसे एक लोमड़ी दिखाय दी । शेर जैसे ही उस लोमड़ी के पास पहुँचता है की लोमड़ी उसके कदमों में गिर जाती है ।

शेर ने लोमड़ी को ऐसे अपने कदमो में गिरते हुए देखकर उससे कहा अरे ये तुम क्या कर रही हो ? तभी लोमड़ी ने उसे कहा की आप तो महान हो ! आप तो हमारे जंगल के राजा हो ! मुझे आप अपना सेवक बना लीजिये । में आपका काम पूरी निष्ठा से करुँगी ।

लोमड़ी ने शेर से ये भी कहा की में आपकी सेवा करुँगी और उसके बदले में आपके शिकार में से जो कुछ भी बचेगा मैं वो खा लिया करुँगी । शेर को लोमड़ी की बात सही लगी और उसने लोमड़ी को अपना सेवक बना लिया ।

अब जब भी शेर शिकार करने जाता था तब वो अपने साथ उस लोमड़ी को भी ले जाता था । इस तरह दोनों साथ समय बिताने लगे और देखते ही देखते दोनों में बहुत अच्छी दोस्ती हो गयी । लोमड़ी अब शेर के शिकार का बचा खुचा मांस खाकर पहला से ज्यादा बलवान होती जा रही थी ।

एक दिन लोमड़ी ने शेर से कहा की , “अब तो में भी तुम्हारे जितनी ही बलवान हो गयी हु ” । इसलिए में आज हाथी पर वार करने के बारे में सोच रही हु । में आज हाथी पर वार करुँगी और मेरे खाने के बाद जो मांस बचेगा वो तुम खा लेना ।

Short Panchtantra Story In Hindi – एक कुत्ते ने दी शेर को मात

मुर्ख बकरियां – Panchtantra Short Story In Hindi

बंदर और लालची बिल्ली – Panchtantra Hindi Story

आलसी गधा – Hindi Panchtantra Story

शेर को लगा की ये लोमड़ी मेरे साथ दोस्ती में ऐसा मजाक कर रही है । लेकिन बात तो ये थी की लोमड़ी को अपनी शक्ति पर कुछ ज्यादा ही घमंड हो गया था । वो अपने आप को शेर के बराबर मांनने लगी थी । लोमड़ी पेड़ पे चढ़कर बैठ जाती है और हाथी का इन्तजार करने लगती है ।

शेर को हाथी की ताकत का पहले से ही अंदाजा था , उसलिए वो लोमड़ी को समझाने की कोशिश कर रहा था लेकिन लोमड़ी समझने के लिए तैयार ही नहीं थी ।

तभी पेड़ के निचे से एक हाथी गुजरता है । हाथी को देखते ही लोमड़ी उस पर हमला करने के लिए कूद पड़ती है , किन्तु लोमड़ी ने छलांग सही जगह पर नहीं लगाई इस लिए वो हाथी के पैरों में गिर जाती है । हाथी ने जैसे ही अपना पैर बढ़ाया वैसे ही लोमड़ी उसके पैर के नीचे कुचल गयी ।

इस तरह लोमड़ी ने अपने दोस्त शेर की बात न मानकर अपने घमंड की वजह से बहुत बड़ी गलती की और अपने प्राण गंवा दिए ।

Moral : हमें अपने दोस्तों को निचा दिखाने के लिए कभी भी किसी बात पर घमंड नहीं करना चाहिए अन्यथा हमारी हालत भी इस लोमड़ी के जैसी ही हो जाएगी ।

अगर आपको हमारी Story ( Short Moral Panchtantra Story In Hindi – घमंडी लोमड़ी ) अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ भी Share कीजिये और Comment में जरूर बताइये की कैसी लगी हमारी ये कहानी ।

About the author

Abhishri vithalani

I am a hindi blogger. I like to write stories in hindi. I hope that by reading my blog you will definitely get to learn something and your attitude of living will also change.

Leave a Comment